About Me

डॉ. राजेन्द्र कुमार सिंघवी 

परिचय 


एम.ए.(हिन्दी),बी.एड.,पीएच.डी 
सहायक आचार्य,हिन्दी विभाग,
डॉ.भीमराव अम्बेडकर राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय,निम्बाहेड़ा
जिला-चित्तौड़गढ़,राजस्थान.पिन-312601


प्रकाशित कृतियाँ :

  1. आचार्य तुलसी की काव्य-साधना (आलोचना) ,आदर्श साहित्य संघ, नई दिल्ली.
  2. सामान्य हिन्दी(व्याकरण),आठवाँ संस्करण,राजस्थान हिन्दीग्रन्थ अकादमी,जयपुर.
  3. काव्यांग परिचय(काव्य शास्त्र),तृतीय संस्करण,राजस्थान हिन्दी ग्रन्थ अकादमी, जयपुर.
  4. साहित्य का सांस्कृतिक पक्ष (आलोचना), आर्यावर्त संस्कृति संस्थान,दिल्ली.
  5. हिन्दी भाषा:उद्भव,विकास एवं मानक रूप (भाषा),राजस्थान हिन्दी ग्रन्थ अकादमी, जयपुर.
संपादित कृतियाँ :

  • ·        पीयूष प्रवाह (पाठ्य पुस्तक-कक्षा:12),मा.शि.बोर्ड,राजस्थान,अजमेर.
  • ·        राष्ट्रबोध,संस्कृति एवं साहित्य(आलोचना),अंकुर प्रकाशन ,उदयपुर .

प्रकाशित शोधपत्र :

  1.         जैनेन्द्र के कथा साहित्य में सांस्कृतिक पृष्ठभूमि (सृजन के सरोकार)
  2.         रामकाव्य के नारी पात्र (अपनी माटी)  
  3.         महादेवी वर्मा की दृष्टि में भारतीय नारी (समवेत)
  4.         निराला काव्य की युगीन अर्थवत्ता (अपनी माटी)
  5.         राष्ट्रप्रेम का युग चारण :दिनकर (शिविरा)
  6.         कबीर के राम (हमारा दृष्टिकोण)
  7.         समन्वयवादी भक्त कवि :तुलसीदास (शिविरा)
  8.         आचार्य तुलसी के काव्य में भारतीय सांस्कृतिक मूल्य (तुलसी प्रज्ञा)
  9.         डॉ.धर्मवीर भारती के काव्य में आस्था और अनास्था का द्वंद्व (साहित्य-        परिक्रमा)
  10.        कन्हैयालाल सेठिया का दार्शनिक चिंतन (हमारा दृष्टिकोण)
  11.        राष्ट्रीय चिंतन के परिप्रेक्ष्य में सोहनलाल द्विवेदी का काव्य (संस्कृति            समन्वय)
  12.         अज्ञेय की प्रयोगधर्मिता (शिविरा)
  13.         हिन्दी काव्य में पर्यावरण चेतना (अपनी माटी)
  14.         चित्तौड़गढ़ की साहित्यिक विरासत (साहित्य परिक्रमा)
  15.         भारतीय भाषाओं का पारस्परिक अन्तःसम्बन्ध (जनकृति)
  16.         ‘जगद्गुरु शंकराचार्य’ का शैलीगत वैशिष्ट्य (मधुमती)
  17.        सदी का पहला  दशक:हिन्दी कविता
  18.         राष्ट्रीय चिंतन के परिप्रेक्ष्य में बालकृष्ण शर्मा’नवीन’ का काव्य (साक्षात्कार)
  19.         प्रिय-प्रवास का महाकाव्यत्व
  20.         वैश्विक भाषिक प्रतिमान एवं हिन्दी (मधुमती)
  21.         आचार्य शिवपूजन सहाय की दृष्टि में हिन्दी-उर्दू का रिश्ता (हिन्दी अनुशीलन)
  22.         सांस्कृतिक प्रतिमान और अज्ञेय की दृष्टि (मधुमती)
  23.     मीरा का जीवन दर्शन (वीणा)
  24.     आचार्य शुक्ल का कवित्व (जनकृति)

प्रसारित आकाशवाणी वार्ताएं  :

  • ·        आचार्य तुलसी : अणुव्रत अनुशास्ता राष्ट्रसंत एवं मानव कल्याण के पुरोधा
  • ·        पावन धरा :चित्तौड़गढ़
  • ·        भगवान् महेश्वर :सर्वज्ञ,परिपूर्ण और निस्पृह
  • ·        राम की शक्तिपूजा : वर्तमान सन्दर्भ
  • ·        कामायनी का सामयिक यथार्थ
  • ·        हल्दीघाटी : राष्ट्रीय गौरव का आख्यान
  •      जैनेन्द्र का संस्कृति-चिंतन 
  •      विख्यात कृति - चिंतामणि 


समीक्षा  : 

·        मेरी असमाप्त यात्रा :डॉ. सत्यनारायण व्यास (तनिमा)
·        काशी मरणान्मुक्ति :मनोज ठक्कर-रश्मि छाजेड (अपनी माटी)
·        अम्बेडकर और स्त्रीविमर्श :डॉ.शरद सिंह-गुलाबचंद (अपनी माटी)
·        आदिम बस्तियों के बीच :डॉ. नन्द भारद्वाज (कथन)
·        सेज पर संस्कृत :मधु कांकरिया (अपनी माटी)
·        जीवन की गहरी छापें : संतोष चौबे (कला समय)
·        राजधानी में एक उज्बेक लडकी : अरविन्द श्रीवास्तव (कला समय)
·        सरोकार और सृजन :डॉ. महेंद्र भटनागर (अपनी माटी)
·        खम्मा :अशोक जमनानी(अपनी माटी)
·        एक देश और मरे हुए लोग :विमलेश त्रिपाठी (अपनी माटी)
·        बेघर का बना देश :विजेंद्र (कृति ओर)
·        पहले ऐसा नहीं था :हरीश पाठक (अपनी माटी)
·        भारतीय संस्कृति और जीवन मूल्य :उषा गोयल (मधुमती)
·       सधे हाथों की थाप :त्रिलोकीमोहन पुरोहित (मधुमती)
·       कवि निकष : सवाई सिंह शेखावत (मधुमती)
·       विमर्श के आयाम : डॉ. विमला सिंहल (मधुमती)
·       संत दादूदयाल : जीवन और साहित्य : डॉ.नवीन नंदवाना (मधुमती)

सम्मान  :

·        लेखक सम्मान : राजस्थान हिन्दी ग्रन्थ अकादमी,जयपुर.
·        शब्द्श्री सम्मान : अखिल भारतीय साहित्य परिषद्,राजस्थान,निम्बाहेड़ा.

सदस्य  :

·        भारतीय हिन्दी परिषद्,प्रयागराज .

संपर्क  :

·       एफ 6-7 , रजत विहार ,निम्बाहेडा ,जिला चित्तौड़गढ़ (राजस्थान):312601
·       ब्लॉग :  drrajendrasinghvi.blogspot.in
·       मेल  :  drrajendrakumarsinghvi@gmail.com
·       मोबाइल : 9828608270



ई-मेल:-drrajendrakumarsinghvi@gmail.com


मो.नं.  +91-9828608270









































        





Search This Blog

मेरी रचनाएं अपने ई-मेल पर नि:शुल्क प्राप्त करें